जिसे रात के अंधेरेमें चोदा वोह बहन निकली

 
loading...

मेरी उम्र २३ वर्ष हो रही है Antarvasna Kamukta Indian Sex Hindi Sex Stories Chudai मेरे परिवार में मात्र तीन लोग रहते हैं, मैं, मेरी माँ और मेरी पत्नी ! और हाँ एक औरसदस्य आज ही आया जो हमारे ही बीच का है पर आज से ठीक दो साल पहले ही उसकी शादी हो चुकी है, जो अपनेससुराल में रहती है, वह है मेरी दीदी ! जिसके पति तीन दिन पहले अरब देश जा चुके हैं, जिसके चलते वह हमारेयहाँ रहने आ गई है।

पर आते ही मेरे कमरे और मेरी बीवी पर पहला अधिकार जमा लिया। सबकी दुलारी होने से कोई कुछ नहीं मनाकरता और किसी काम को करने से नहीं रोकता है। माँ की दुलारी तथा मेरी भी बड़ी दीदी होकर भी साथ साथ पलेबढ़े हैं क्योंकि मुझसे मात्र दो साल ही बड़ी है। हम लोग उनकी सेवा में लगे हुए थे और देखते देखते शाम, फिर रातभी हो गई, परन्तु दीदी मेरे कमरे में जमी रही। अंत में मुझे दूसरे कमरे में यह सोच कर सोना पड़ा कि शायद आजही आई है तो सो गई, कल से दूसरे कमरे में सोयेंगी।

आप य कहानी देसी सेक्स स्टोरी पर पढ़रहे हें

दूसरे कमरे में आकर मैंने सोने की कोशिश की मगर नींद नहीं आई तो टी.वी. चला लिया। शनिवार होने से चैनलबदलते हुए मेरा हाथ रैन टी.वी. पर रुक गया जहाँ गर्म फिल्म आ रही थी। अब तो मेरी नींद भी जाती रही, एक तोबीवी से डेढ़ साल में पहली बार रात में अलग सोना, उस पर से रैन टी.वी. का कहर !

मुठ मारते पूरी रात काटनी पड़ी पर मन टी.वी. बिना देखे मान ही नहीं रहा था। किसी तरह मुठ मारते रात काट लीऔर सुबह काफी देर तक सोता रहा। जब उठा तब मेरी बीवी नाश्ता बना रही थी। मुझे देख कर मुस्कुराते हुए बोली- लगता है कि काफी निश्चिंत होकर रात में सोये हैं जनाब !

मेरा नाराजगी भरा चेहरा देख कर और कुछ न बोल कर चाय का प्याला मेरी तरफ बढ़ा दिया। मैं भी कुछ कहे बिनाचुपचाप से चाय पीने लगा। दिन भर सभी अपने अपने काम में लग गए, मैं भी अपने ब्रोकिंग एजेंसी को देखनेचला। दिन भर तो काम में लगा रहा, शाम को घर आने पर चाय और नाश्ता देकर बीवी फिर दीदी के पास जाकरबैठ गई जो मेरे ही सामने के कुर्सी पर बैठी नाश्ता ले रही थी।

अब मैंने थोड़ा ध्यान दीदी की तरफ दिया, सोचने लगा- क्या दीदी आज भी मेरे ही कमरे में सोयेंगी?

और बातों बातों में पता लगा कि वे आज भी नहीं जान छोड़ने वाली !

फिर वही कहानी पिछली रात वाली !

मुझे आज फिर अकेले दूसरे कमरे में सोना था ! पर आज मुझे दीदी पर बहुत गुस्सा आ रहा था और बकबकाते हुएमैं बाहर आ गया। पिछली पूरी रात खराब कर के रख दी थी !

रात होते ही मेरा मुठ मारना शुरु हो गया और आज न जाने कैसे रात कट गई, पता नहीं कब नींद लग गई !

सुबह जगा तो पूरे सात बज रहे थे। मैंने सोच रखा था चाहे कुछ भी हो आज रात रानी को (मेरी बीवी) नहीं छोड़नाहै, या तो मेरे कमरे में या रसोई में, कहीं भी चुदाई होगी तो होगी !

जैसे ही दीदी ने नहाने के लिए स्नानघर में प्रवेश किया, मैं मौका देख कर रसोई में घुस गया और पीछे से रानी कोपकड़ उसके बोबे मसलते हुए चूतड़ों की फांकों में अपने फनफनाये लंड का दबाब डालते हुए गालों को जोर से चूमलिया तो रानी बोली- कोई देख लेगा ! क्या करते हो? दो रातों में ही अकडू महराज पायजामे से बाहर हो रहे हैं, अगरदो रातें और बिता ली तो पायजामे से निकल किसी बिल में ही घुस जायेंगे तो ढूंढना मुश्किल हो जायेगा !

मैंने कहा- देखो रानी, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा ! आज रात कुछ करो यार ! यह दीदी अपने तो अकेली रहनेकी सजा कट रही हैं, साथ में हमें भी मार रही हैं ! या तो तुम मेरे कमरे में आ जाना या रात को यहीं रसोई में हीचुदाई करेंगे !

रानी भी थोड़ी उत्तेजित हो चुकी थी, वह बोली- नहीं, रसोई में ठीक नहीं होगा ! मैं तुम्हारे कमरे में भी नहीं आ सकतीक्योंकि दीदी सोचेगी कि दो रात में जवानी काबू में ना रही जो मराने चली गई।

मैं बोला- तो मैं मुठ मार कर सोता रहूँ?

“नहीं जी ! मैंने ऐसा कब कहा? अगर यह समस्या सदा के लिए टालनी है तो हम अपने कमरे में ही करेंगे। अगरदीदी जाग गई तो शरमा कर कल से नहीं सोयेंगी। और ना जगी तो रोज ऐसे ही चलेगा !”

रानी का जबाब सुन कर मैंने कहा- पर इसमें तो दीदी के जागने का ज्यादा चांस है, जागने पर क्या सोचेंगी?

रानी ने कहा- मैं तो चाहती हूँ कि रात को दीदी जग जाये जिससे कल से यह समस्या ख़त्म हो जाये ! समझे बुद्धू ?

मैं समझने की कोशिश करता हुआ काम बनता देख ज्यादा ना पूछा पर जानना चाहा- पर रात में मैं तुझे पहचानूँगाकैसे?

वह बोली- मैं बेड के इसी किनारे सोऊंगी और दरवाजा खुला रखूंगी ! तुम धीरे से आ जाना बस !

मैं कुछ और पूछता, इससे पहले दीदी नहाकर निकलने जा रही थी। तो मैं धीरे से निकल चला और रात के इंतजारमें जल्दी से तैयार हो कर अपने काम पर चल दिया।

और आज तो तिसरी रात होने के कारण उसमें और खूबसूरती आ गई है। अब मुझे केवल रात का इन्तजार था।

आखिर शाम हुई, फिर रात हुई और सबने खाना खाकर अपने अपने बिछावन को पकड़ लिया पर दीदी मेरे ही कमरेमें डेरा जमाये हुए थी। इन्तजार करते करते लगभग रात के ग्यारह बज चुके थे। सम्पूर्ण अंधेरा था क्योंकि बिजलीभी नहीं थी, मकान में एकदम सन्नाटा छाया था, माँ के कमरे से खर्राटों कीआवाज आ रही थी। सुनने में ऐसा लगा कि वह गहरी नींद में होगी।

मैंने निश्चिन्त होने के लिये पांच मिनट का इन्तजार किया। अब लगभग अपने कमरे के पास पहुँच मैंने अपनादायां हाथ इस प्रकार से दरवाजे के तरफ़ बढ़ाया कि कोई हलचल न होने पाये। और कमरे के अन्दर अपने बेड केपास आकर देखने की कोशिश करने लगा पर कुछ साफ न दिखने से अन्दाजा लगाया कि रानी ने कहा था कि वहबेड के इसी तरफ़ सोयेगी। आज पहली बार मुझे अपने ही घर में अपने कमरे में चोरों की तरह घुसना पड़ रहा था।धड़कते दिल से मैं बिछावन के पास पहुँचा और मध्यम रौशनी के सहारे इस तरफ़ की आकृति को छुआ। मेरा हाथउसके चूतड़ पर लगा।
फिर कुछ देर रुक कर मैंने अपना हाथ आगे पेट की ओर बढ़ाते हुए आहिस्ता से उसके उन्नत-शिखरों की ओरखिसका दिया। मेरे हाथ का पंजा उसके स्तनों के पास पहुँच कर पूरे पंजे से उसके बोबे दबाने लगा। अब मैंने उसकेखुले गले के ब्लाऊज़ के गले के अंदर हाथ डाला तो मेरा पहला स्पर्श उसकी सिल्की ब्रा का हुआ, पर इससे तो मुझेसन्तुष्टि नहीं हुई। फिर मैंने आहिस्ता से अपना हाथ उसके स्तनों के बीच की घाटी में प्रविष्ट करा दिया औरआहिस्ता आहिस्ता उसके दोनों स्तनों पर अपने हाथ घुमाने लगा। मैं उसकी दूध की दोनों डोडियों से खेलने लगा

 



loading...

और कहानिया

loading...
3 Comments
  1. SATISH KULKARNI
    December 11, 2017 |
  2. December 11, 2017 |
  3. karan
    December 12, 2017 |

Online porn video at mobile phone


jiji ma or bhai se chudai karai ki kahanixxx hindhisexi bhai bahan ki chodai audiow stourywww.xxx.samli se larki k chodayantrvasan niu chodan dot com. Hindi sote huy ki sexi kahanibahen ki chut phadi daru pike sex kahanyमस्त बोबो की मसलाई चूसाई चूदाई hindi sexy kahani comलड़का और लड़कि चौदा चादि विड़ियोगांडा कि चुदाईमराठि आई सेकसी कहानीगांडा कि चुदाईNEW BHBI XXX KAHANIYAचाची को सलीपर मे चोदाmausha na maa ko choda aal khaneya hinde mastramBhabi bedroom kahanigujarati ladaki ke xxx kahanesans or me sex storyxxx kahanicharme chuskar bhatiji ki cudai ki xxx. biluबुआ की चुदाइshadishuda bhen ke boob ka doodh piya hindi saxy story picXxx bhabhi bhaya riyl sex niudesi sexy sherab pee storyx Video SchooI चूतsex kahani with photo grandma chor ne chodaxxx khaneyaभोजपुरी स्टोरी डॉग गर्ल क्सक्सक्सristo me chudai kahani hindi mebur ki garam kahaniwww.bhaiya.bhabi.smbhog.khani.sex.dot.com.क्सनक्सक्स इनदिन १६ साल mami bhanjacal grl ki nangi chudai ki photo & story hindi mehindi chodai kahani braa ka hukchuchi kahaniXxx दीदी की cut मारी पापा ने sax HD video. कॉमlami xxx khani hindikutte se chudti rahi storinined m chudi sax kahanichud ki khani hinde meबहन की चूदाई अनजाने मै हो गईcut ke cuddae kute ke land sePati ka chota lund ki saza sex storyhinde cudai khneya poto sahetचुदाई के लिए सभी तैयार हो गएपहाडी फुदीPAPA NE CHODASEXY STORY HINDIrishto me chudaai saath hindi me kahanisexy chudai ki kahani hindinokar se chufai randi kutiya ban kehindi ma saxe khaneyasiena west chudai ka khel hindi non-veg.story.comhindi sexy chalu sister kahanixxxbalu bhan bhi ke chudi kaniगाड मार फिल्म काहनीsex gey kahanya in hindiउनको समझा पर निकले भैया और में चुद गयीxxxy story sagi bua ko chodkar prepnent ki yakunwari chut phat gayi kamukata.comkamukta.comअनजाने चुदाई की कहानियापति और पत्नी की फुल सेकस चुदाई कघ कहा नगांव में रात में चुदाईsexi mms groupes aapsiकमला।भाभी।हिन्दी।मूवीx chudai gaaliyaan mard ne thoka kahanichudayiki hindi sex kahaniya/tag-adult stories/bktrade. rusex kahani aunty charwahe kibibi ke samane parayee aurat ki chudai storyxxxkahane hendeSe gav me anti ka ka kahani hindiमामि।को।हलवाई।ने।चोदा।बिडीओxxx.furst chut chudai.sillpack aahबस सेक्स स्टोरी नईमेरी चूत पर मैच खेला ।Antervasna sitoridudh chuswati auratMuslim avrat Ki dhoke se Chudai Ki kahaniyAsagi behan ki chudai ki hindi kahanix Video SchooI भाभी चूत चुदाई मेङम Antervasna sitorigaav jate waqt sasur ne bahu ko bas me chod diyasix video story hindeसन्स हिंदी सेक्स स्टोरीmaine meri maa kochoda yab meri nani ne dekh liyaसेक्स कहानि मारकिट15 saal ki ladkiyon ki chudai ki sachhi kahaniyanhindi saxy kahni